योजनाएं और कार्यक्रम

Printer-friendly version

 
क)  ऋण आधारित योजनाए

क्र. सं. योजना का नाम अधिकतम सीमा           ब्याज दर पुर्नभुगतान अवधि
राज्य माध्यम अभिकरण लाभार्थी
1. महिला समृद्धि योजना (एम.सी.एफ.) रु. 50000-/ तक 1% 4% वार्षिक 3 वर्ष*
2 महिला अधिकारिता योजना (एम.ए.वाई) रु.75000-/ तक 2% 5% वार्षिक 5 वर्ष*
3 लघु ऋण योजना (एम.सी.एफ.)  रु. 50000-/ तक 2%  5% वार्षिक 3 वर्ष*
4 सामान्य मियादी ऋण योजना (जी.टी.एल.) रु.15 लाख तक 3%  6% वार्षिक 10 वर्ष*
5 शिक्षा ऋण (ई.एल.)
भारत में शिक्षा हेतु
विदेश में शिक्षा हेतु 
 
रु.10 लाख तक 
रु.20 लाख तक
1% 4% वार्षिक # कोर्स समाप्त होने एवं 1 वर्ष की स्थगन अवधि के उपरांत 5 वर्ष
6 स्वच्छता उधमी योजना - ‘‘स्वच्छता से सम्पन्नता की ओर’’
ब) भुगतान एवं उपयोग शौचालयों के लिए  रु.25 लाख तक - 4%वार्षिक@ 10 वर्ष**
स) स्वच्छता संबंधी वाहनों की खरीद के लिए  रु.15 लाख तक - 4%वार्षिक@ 10 वर्ष*
7 सैनेट्री मार्ट योजना  रु. 15 लाख तक - 4%वार्षिक@ 10 वर्ष*
8 हरित व्यवसाय योजना (बैटरी इलेक्ट्रिक वाहन (ई-रिक्शा), कम्प्रेस्ड एयर वाहन, सोलर उर्जा से संचलित यंत्र एवं पाॅलीहाउस आदि के लिए) रु.2 लाख तक 2%
* (महिला लाभार्थियों के संदर्भ में एनएसकेएफडीसी के शेयर से 1% छूट।)
4% वार्षिक 6 वर्ष***

 
ख)  गैर ऋण आधारित योजनाएॅ

1. कौशल विकास प्रशिक्षण कार्यक्रम  शत प्रतिशत अनुदान के रूप में एवं रू.1500/- प्रतिमाह /प्रति प्रशिक्षार्थी वजीफा सहित।
2. रोजगार मेला  जागरूकता शिविर के आयोजन हेतु रू.50,000/- का पुर्नभुगतान प्रति रोजगार मेला किया जाता है।
3. जागरूकता शिविर जागरूकता शिविर के आयोजन हेतु रू.30,000/- का पुर्नभुगतान प्रति जागरूकता शिविर किया जाता है।
4. कार्यशाला  कार्यशाला के आयोजन हेतु रू.25000/- का पुर्नभुगतान प्रति कार्यशाला किया जाता है।

#0.5 प्रतिशत की छूट महिलाओं के लिए
*3 माह की क्रियान्वयन अवधि एवं 6 माह की स्थगन अवधि के उपरांत।
** 6 माह की क्रियान्वयन अवधि एवं 6 माह की स्थगन अवधि के उपरांत।
*** 6 माह की स्थगन अवधि सहित।
@1 प्रतिशत की छूट महिलाओं के लिए एंव 0.5 प्रतिशत की छूट समय पर भुगतान करने वाले लाभार्थियों के लिए।