संगठन के बारे में

Printer-friendly version

 

home

नेशनल सफाई कर्मचारी फाइनैंस ऐंड डेवलपमेंट कारपोरेशन (एनएसकेएफडीसी), सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय के अधीन (भारत सरकार उपक्रम), की स्थापना कम्पनीज अधिनियम, 1956 की धारा 25 के तहत 24 जनवरी, 1997 को एक “अलाभार्थ कम्पनी” के रूप में की गई थी। यह भारत सरकार के पूर्ण स्वामित्वाधीन कम्पनी है तथा इसकी अधिकृत शेयर पूंजी रू. 600 करोड़ और प्रदत्त पूंजी रू. 544.99 करोड़ है। एनएसकेएफडीसी पूरे भारत में सफाई कर्मचारियों/स्वच्छ्कारों और उनके आश्रितों के सर्वांगीण सामाजिक-आर्थिक उत्थान के लिए एक शीर्ष संस्था के रूप  में कार्यरत है।

 

लक्षित समूह के उत्थान हेतु ऋण आधारित एवं गैर-ऋण आधारित योजनाओं के क्रियान्वयन के अतिरिक्त एनएसकेएफडीसी मैनुअल स्केवेंजिंग - छुआछूत के सबसे खराब मौजूद प्रतीक, के उन्मूलन में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। एनएसकेएफडीसी को सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय के अंतर्गत केन्द्रीय क्षेत्र की मैनुअल स्केवेंजरों हेतु स्वरोजगार एवं पुर्नवास योजना (एसआरएमएस) के क्रियान्वयन के लिए नोडल ऐजंसी बनाया गया है।